कन्या राशिफल 2018

आजीविका:
यह वर्ष आपके लिए मिलाजुला ही रहेगा। शनि की ढैय्या रहने से आर्थिक क्षेत्र में काफी संघर्ष करना पड़़ सकता है। व्यावसायिक शुरूआत अथवा नौकरी में फेरबदल करने के इच्छुक व्यक्तियों को नए अवसर प्राप्त हो सकते हैं। वर्ष उत्तरार्द्ध में उन्नति मिलेगी और धन भी जमा करने में सफल हो जायेगे हालांकि इन सबकी प्राप्ति की गति बहुत धीमी रहेगी। विदेश में अथवा किसी दूर स्थल से कम्युनिकेशन बढ़़ेगा और विशेषकर आयात-निर्यात के कार्यों से जुड़े व्यक्ति नए करार करने अथवा व्यावसायिक मोर्चे पर नई शुरूआत करने के लिए सक्रिय होंगे।

स्वास्थ्य:
जनवरी-फरवरी माह में सेहत का खास ध्यान रखना होगा। वर्ष के शुरु में दूसरे भाव में मंगल-गुरु की युति है अतः खान-पान के प्रति सतर्क रहना होगा। जहां तक संभव हो अधिक मिर्च मसाले के भोजन के सेवन से बचें। नवम्बर-दिसम्बर माह में क्रोध और आवेश से बचना होगा। वर्षांत में स्वास्थ्य को सुधारने के लिए और ज्यादा दृढ़ होंगे। वर्षान्त यानी दिसम्बर में वाहन चलाते समय थोड़ा सतर्क रहें, कुछ दुर्घटना के भी कुयोग बन रहे हैं।

आर्थिक स्थिति:
इस साल के शुरु में आपके दसवें कर्म क्षेत्र स्थान का स्वामी ग्रह तीसरे स्थान में होने से कार्यक्षेत्र में पुरुषार्थ से ही समस्या और रुकावट को हटाने में सफल रहेंगे। वित्तीय लाभ प्राप्त करने के लिए अपने संसाधनों का बुद्धिमानी से नियोजन करें। अगस्त के बाद हो सकता है आपको कुछ राहत मिलेगी। रुका धन वापस प्राप्त करने और अतिरिक्त धन कमाने के लिए यह एक अच्छा समय है। हालांकि, आपकी योजनाएं आर्थिक रूप से मजबूत हो सकती हैं। वर्ष के अंतिम तीन महीने कुछ चुनौतियों के संकेत दे रहे हैं।

यात्रा/अप्रवास/स्थानांतरण:
यह समय परिवार के साथ घूमने-फिरने और मौज मस्ती के लिए सकारात्मक बना हुआ है। नौकरी में बदलाव करने के लिए साल के शुरु की अवधि का प्रयोग कर सकते हैं। जुलाई-अगस्त माह में विदेश गमन के कार्यक्रम बन सकते हैं। सितम्बर माह धार्मिक यात्राओं के लिए सुखद और आनंदमयी बना हुआ है। साल के अंत में विदेश जाने के लिए अनुकूल संयोग बनेंगे तथा विदेश संबंधी कार्यों में भी गतिविधियां तेज होंगी।

परीक्षा और प्रतियोगिता:
पंचमेश शनि की स्थिति सारे वर्ष चतुर्थ भाव में होने से विद्यार्थियों को सफलता के लिए बहुत अधिक मेहनत करनी पड़़ सकती है। यहां शनि प्रतियोगिता भाव को दृष्टि देकर छात्रों के लिए प्रतियोगिताओं को मुश्किल बना रहे हैं। वर्ष मध्य छात्रों के लिए कुछ सहज होगा और आसानी से सफलता प्राप्त होगी। नवम्बर-दिसम्बर माह में अध्ययन विषयों पर ध्यान, एकाग्रता और मनोबल को बनाए रखना होगा अन्यथा असफलता का सामना करना पड़़ सकती है।

घर, परिवार और समाज:
वर्तमान वर्ष में शनि की ढैय्या प्रभावी है। ऐसे में प्रेम संबंधों में पूरी सावधानी बरतनी होगी। फरवरी-मार्च माह में अपने किसी मित्र के सामने प्रेम प्रस्ताव रखने के सकारात्मक फल प्राप्त होंगे। सितम्बर-दिसम्बर माह में अविवाहितों को विवाह प्रस्ताव प्राप्त होने के संकेत मिल रहे हैं। सितम्बर माह में घर में शादी, सगाई या मांगलिक कार्य होने के योग हैं। वर्षांत में वैवाहिक जीवन में सुखों का भरपूर आनंद मिलेगा। इस वर्ष मित्रों और रिश्तेदारों के साथ आपके रिश्ते अच्छे रहेंगे।

धार्मिक कर्म:
धर्म-कर्म पर खर्च होने के संकेत मिल रहे हैं। इस साल राहु आपके द्वादश भाव पर रहेंगे, राहु की यह स्थिति धार्मिक यात्राओं को कष्टमय बना रही है। विदेश जाने के लिए समय की विशेष शुभता प्राप्त हो रही है। परन्तु धार्मिक क्रियाओं में सक्रियता पहले से कम रहेगी। अगस्त और सितम्बर माह धर्म, शांति और शुभ कार्यों को संपन्न करने के लिए विशेष सुखद बना हुआ है। शनि ढैय्या भी प्रभावी है इसलिए शनि शांति हवन घर-परिवार में समय समय पर कराते रहें।