कर्क राशिफल 2018

आजीविका:
व्यापारियों व नौकरी पेशा व्यक्तियों के लिए यह समय मिला-जुला रहेगा। वर्ष आरम्भ में कर्मेश मंगल तुला राशि में गोचर करेंगे, यह आपके कार्यभार में अत्यधिक वृद्धि करेगा। फरवरी-मार्च माह में नौकरी परिवर्तन के प्रयास कर सकते हैं। स्थानांतरण और स्थान परिवर्तन की भी संभावनाएं बन रही हैं। मार्च-अप्रैल माह में मेहनत के अनुरुप लाभ और सफलता कम मिलने से कुछ निराशा अवश्य हो सकती है। वर्ष का उत्तरार्द्ध करियर की प्रगति और व्यापार से संबंधित मामलों को लेकर आशाजनक रहेगा। प्रगति पाने के लिए आपको बहुत अधिक धैर्य रखना होगा।

स्वास्थ्य:
वर्ष के शुरुआत में ही सेहत का विशेष ध्यान रखना होगा। सिर में दर्द व जोड़ों में दर्द होने की संभावनाएं हैं। शनि धनु राशि (षष्ठ भाव) से तीसरी दृष्टि से अष्टम भाव दीर्घकालीन रोगों को सक्रिय कर रहे हैं। सावधानी और परहेज न रखने पर गंभीर रोग भी कष्ट बढ़़ा सकते हैं। अगस्त-सितम्बर माह में सेहत की स्थिति तनावपूर्ण और नियंत्रण से बाहर होने की संभावना बन रही है।

आर्थिक स्थिति:
आर्थिक स्थिति के लिए यह साल अच्छा रहेगा है परंतु साल की शुरूआत में जो कार्य आप करना चाहते हैं उसमें मुश्किलें आ सकती हैं। मई-जून माह में आर्थिक स्थिति को बेहतर करने के लिए खर्चों पर नियंत्रण रखना होगा। शनि का गोचर आपके ऋण भाव पर है अतः बड़ी मात्रा में कर्ज लेते समय सावधानी रखें। अन्यथा मानसिक बेचैनी बढ़़ सकती है। साल के अंतिम तीन माह व्यावसायिक/व्यापार और साझेदारी के लिए अच्छे नजर आ रहे हैं।

यात्रा/अप्रवास/स्थानांतरण:
अप्रैल माह 2018 छोटी-बड़ी यात्राओं के अनेक योग बनाएगा। वर्षारम्भ में व्यवासायिक कारणों से घर से दूर रहने की स्थिति बन सकती है। इस समयावधि में घर का पूर्ण सुख प्राप्त नहीं हो पाएगा। क्षमता से अधिक कार्यभार होने से नौकरी छोड़ने व फरवरी-मार्च माह में नौकरी में बदलाव के प्रयासों को सफलता मिलेगी। व्यावसायिक यात्राओं के लिए वर्ष का उत्तरार्द्ध अधिक लाभप्रद बना हुआ है। वर्षावधि में सामान्य से अधिक यात्राएं आपको करनी पड़़ सकती है।

परीक्षा और प्रतियोगिता:
छात्र वर्ग के लिए यह समय चुनौतीपूर्ण रहेगा। प्रतियोगिता और परीक्षा में मनोनुकूल सफलता पाने के संकेत मिल रहे हैं। जनवरी से मार्च माह के मध्य मेहनत सामान्य से अधिक करनी होगी। उच्चतर शिक्षा के इच्छुक छात्रों को मनोनुकूल विषयों में प्रवेश मिल जाएगा। अध्ययन कार्यों से विदेश जाने का विचार रखने वाले व्यक्तियों को जुलाई माह में प्रयास करने होंगे। बाधाओं के बाद परिणाम आपके पक्ष में आने की संभावना बन रही है। शोध छात्रों के लिए समय संघर्ष और उलझनों से भरा रहेगा। प्रयास और मेहनत करते रहने से वर्ष का उत्तरार्द्ध प्रगति वाला रहेगा। भाग्य के भरोसे न रहें।

घर, परिवार और समाज:
इस वर्ष जीवन में किसी नए व्यक्ति के आगमन के पूरे योग बन रहे हैं। फरवरी- मार्च माह प्रेम विषयों के लिए कुछ खास संकेत लेकर आएगा। प्रेमी वर्ग समय की शुभता का लाभ उठायें। जून माह से लेकर अगस्त माह तक समय सुखद बना हुआ है। इस अवधि में आवश्यक निर्णय लिए जा सकते हैं। दांपत्य जीवन में पुराने मतभेद उभर कर सामने आ सकते हैं। सप्तम भाव पर शनि की स्थिति गृहस्थ जीवन के क्षेत्र में शीघ्र प्रतिक्रिया देने से बचने की सलाह दे रहा है।

धार्मिक कर्म:
जन्मराशि पर राहु की स्थिति होने से धर्म-कर्म कार्यों में सक्रियता अधिक नहीं रहेगी। गुरु की स्थिति भी वर्ष पूर्वार्द्ध में नवम भाव से षटाष्टक योग बना रहा है। अक्तूबर माह से धार्मिक यात्राएं और क्रिया-कलाप अधिक होंगे। इस अवधि से आप मानसिक सुखों की तलाश में रहेंगे। आध्यात्म और धर्म के प्रति आपकी आस्था में बढ़़ोत्तरी होगी। नवम्बर माह में धार्मिक यात्रा का योग बन रहा है। अपने गृहस्थ जीवन की सुख-शांति को बनाए रखने के लिए आप नवग्रह यंत्र की स्थापना कर, नवग्रह शांति हवन कराएं।